Polytechnic Meaning in Hindi

Polytechnic Meaning in Hindi

Polytechnic kya hai? पूरी जानकारी

Polytechnic course 

पॉलिटेक्निक उन छात्रों को engineering में diploma प्रदान करता है, जिन्होंने अपनी 10 वीं की  परीक्षा पूरी कर ली है।  यह एक technical course है। Polytechnic का उपयोग आमतौर पर School, college या University के लिए किया जाता है जो technical या commercial University के संस्थानों के रूप में योग्य होते हैं.polytechnic उन छात्रों को engineering में diploma प्रदान करता है, जिन्होंने अपनी 10 वीं की पात्रता परीक्षा में minimum 40% marks obtained किया  है। Polytechnic students को degree  प्रदान करके engineering की नौकरी करने  के लिए सक्षम बनाता है।

Polytechnic diploma syllabus पूरा करने के  बाद में, वे B.E. या B.Tech easily  कर सकता हैं । engineering में carrier बनाने के लिए polytechnic  प्रतिभाशाली बच्चों के लिए पहला कदम है । polytechnic पूरा कर लेने के बाद देश के विभिन्न औद्योगिक तथा तकनीकी क्षेत्र में आसानी से job  मिल जाती है।

Polytechnic करने के फायदे  ?

एक polytechnic आपको बुनियादी स्तर पर training के व्यावहारिक knowledge को प्राप्त करने में मदद करेगा। Polytechnic करने के बाद बच्चों में एक creativity पैदा होती है जिससे वह किसी भी technical काम करने योग्य हो सके।

इस‌ course को करने के बाद विभिन्न औद्योगिक तथा तकनीकी क्षेत्र में नौकरी ढूंढने में आसानी हो जाती है और नौकरियां मिल भी जाती है इसके अलावा polytechnic करने के बाद government के विभिन्न department में junior engineering के पद पर vacancies निकाली जाती है जो एक polytechnic students के लिए बहुत बड़ी opportunity होती है । Polytechnic संस्थान एक ही छत के नीचे कई व्यावसायिक पाठ्यक्रमों की पेशकश करने के लिए समर्पित हैं।

Top Polytechnic course- polytechnic मैं भी अनेक प्रकार की कोर्स है मैं आपको 10वीं तथा 12वीं के बाद Polytechnic के top course के बारे में नीचे बताने वाला हूं।

India के top Polytechnic course-

Chemical engineering

Mechanical engineering

Civil engineering

Electrical engineering

Computer science engineering

It engineering in diploma

IC engineering in diploma

ESI engineering diploma

Electronics engineering

Electronic and telecommunication engineering

इसके अलावा भी बहुत सारे ऐसे course है जिसे आप इस polytechnic के सहारे आप कर सकते हैं और अपने भविष्य को सुरक्षित बना सकते हैं।

Polytechnic course की duration- यह कोर्स पूरे 3 सालों का होता है जिसमें 6 सेमेस्टर होते हैं इसके अलावा पॉलिटेक्निक के कुछ कोर्स 2 वर्ष तथा 1 वर्ष के भी होते हैं।

  • 3 year diploma course में electrical engineering, architecture assistantship course है।
  • 2 year diploma course में पुस्तकालय और सूचना विज्ञान, pharmacy, शामिल हैं।
  • 1 diploma course में विपणन और बिक्री प्रबंधन, सौंदर्य और स्वास्थ्य देखभाल, आदि शामिल हैं।

 

Polytechnic course में कैसे admission ले 

Registration-किसी भी polytechnic course में admission पाने के लिए, condidate को संबंधित अधिकारियों द्वारा निर्धारित date के अंदर जारी online form को भरना और जमा करना आवश्यक है.उम्मीदवारों को कुछ बुनियादी विवरण जैसे व्यक्तिगत विवरण, शैक्षणिक विवरण, और संपर्क विवरण और और signature जैसे important documents upload करने होते हैं।

Admit card -एडमिट कार्ड में परीक्षा के दिन जैसे condidate का नाम, exam date, exam time table, exam centre और परीक्षा के समय के निर्देशों के बारे में सभी जानकारी दिये होंगे।

Entrance exam-संबंधित अधिकारी अनुसूची के according अपनी संबंधित entrance exam आयोजित करते हैं

Result-  exam के बाद, अधिकारी entrance exam का result घोषित करते हैं। केवल वे उम्मीदवार जो प्रवेश परीक्षा उत्तीर्ण करेंगे, वे admission के लिए योग्य होंगे।

Counseling program-जो condidate entrance exam उत्तीर्ण करेंगे उन्हें counselling प्रक्रिया में भाग लेने के लिए बुलाया जाएगा।काउंसलिंग के बाद, अधिकारी  merit, वरीयता, और सीटों की उपलब्धता के basis  पर उम्मीदवारों को सीटें आवंटित करते हैं।

Polytechnic entrance exam in India

देश के विभिन्न राज्यों में अलग-अलग तरीके से प्रतिवर्ष polytechnic course के लिए प्रवेश परीक्षाएं आयोजित की जाती है ।अलग अलग राज्य का अपना schedule होता है जिसके अनुसार वे 10वीं पास तथा 12वीं पास परीक्षार्थी का चयन उपरोक्त entrance exam के  basis पर करता है। यह परीक्षाएं प्रतिवर्ष एक बार conduct की जाती है अलग-अलग राज्यों का अपना अलग-अलग entrance exam के लिए नाम होता है ।

प्रवेश परीक्षा में आए हुए marks तथा counselling में best performance के आधार पर students को government या private college दिया जाता है एडमिशन के लिए । जिनका entrance exam में काफी अच्छा score होता है तथा उसका counselling best होता है तो उन्हें सरकारी कॉलेज में एडमिशन होता है वही जिस students का काफी कम marks  होता हैं तथा काउंसलिंग में वह best नहीं कर पाते हैं तो उन्हें प्राइवेट कॉलेज में ही एडमिशन लेना पड़ता है।

किसी भी कैंडिडेट को इस 3 वर्षीय डिप्लोमा कोर्स में admission लेने के लिए उपरोक्त परिस्थितियों से गुजरना पड़ता है उसके बाद उन्हें एक कॉलेज मिल पाती है जिसमें वे आसानी से पॉलिटेक्निक नाम का एक डिप्लोमा कोर्स हासिल कर सकें।

Leave a Reply